BHU B.Sc Nursing / B.Pharma Entrance Exam, Syllabus, Admission Process

BHU B.Sc Nursing / B.Pharma प्रवेश परीक्षा : BHU प्रवेश परीक्षा के माध्यम से B.Sc नर्सिंग और B.Pharma, आयुर्वेद में प्रवेश प्रदान करता है।  उम्मीदवार 30 सितंबर, 2020 तक bhu.ac.in पर आवेदन कर सकते थे।

नर्सिंग इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज और RGSC परिसर में प्रवेश के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा का आयोजन होता है। इसमें सभी इच्छुक उम्मीदवार बीएचयू नर्सिंग / बी.फार्मा प्रवेश परीक्षा में भी भाग ले सकते है परीक्षा में भाग लेने के बाद मेरिट अंक पास कर BHU परिसर में पढ़ाई कर सकते हैं।

हम आपको बता दे कि B.Sc नर्सिंग कोर्स के लिए कुल 60 सीटें हैं और B.Pharma (Ay) के लिए 30 सीटें हैं, जिसके लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है।

BHU B.Sc Nursing / B.Pharma प्रवेश परीक्षा, आवेदन फीस एवं सिलेबस डिटेल

इस परीक्षा के लिए बहुत सारे उम्मीदवार आवेदन करते हैं।

महत्वपूर्ण तिथियां

  • BHU B.Sc.  नर्सिंग / बी.फार्मा (A.I.) ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की तिथि 23 जून 10 सितंबर 2020 से शुरू होकर 23 जुलाई 30 सितंबर 2020 तक थी।
  • उसके बाद संस्थान द्वारा इसका एडमिट कार्ड 10 अगस्त से 12 अक्टूबर के बीच जारी किया गया।
See also  Chinmaya Vishwavidyapeeth Entrance Exam, Admission Process and Courses Details

आवेदन प्रक्रिया

  • परीक्षा में बैठने के लिए उम्मीदवारों को एक आवेदन पत्र भरना होता है। आवेदन पत्र BHU की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध होता है। जिसका आवेदन अभ्यर्थी केवल ऑनलाइन मोड में कर सकते हैं।  BHU किसी अन्य मोड में जमा किए गए आवेदन पत्र को स्वीकार नहीं करेगा।
  • उम्मीदवारों को आवेदन शुल्क का भुगतान करके सफलतापूर्वक आवेदन पत्र अप्लाई करना होगा, अन्यथा उम्मीदवारी रद्द कर दी जाएगी। परीक्षा के लिए खुद को पंजीकृत करने के लिए उम्मीदवारों के पास एक वैध ईमेल आईडी होना चाहिए।

आवेदन शुल्क

  • जनरल और ओबीसी के छात्रों के लिए आवेदन फीस 1000 /- रुपये है और एससी / एसटी / पीसी श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 750 /- रुपये फीस रखी गई है।
  • आवेदन फीस का भुगतान अभ्यर्थी डेबिट कार्ड / क्रेडिट कार्ड / नेट बैंकिंग / एनईएफटी के माध्यम से कर सकते है।

BHU B.Sc.  नर्सिंग / बी.फार्मा (A.I.) प्रवेश परीक्षा योग्यता

परीक्षा में आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों को पहले यह सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि वह पात्रता मानदंडों को पूरा करता है या नहीं, क्योंकि यदि अभ्यर्थी पात्रता मानदंडों को पूरा नहीं करता है तो उम्मीदवार इस फॉर्म को बिल्कुल न भरे नहीं तो आवेदन फीस व्यर्थ हो जाएगी। इस परीक्षा से संबंधित सभी योग्यता नीचे दी गई है जिसे उम्मीदवार अच्छी तरह पढ़ ले।

See also  Bengaluru Amirta College of Arts and Science Entrance Exam and Admission Process

शैक्षिक योग्यता

अंग्रेजी, भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान में न्यूनतम 50% अंक होने चाहिए साथ ही उम्मीदवारों के लिए 10 + 2 या इसके समकक्ष किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से इंटरमीडिएट की डिग्री होनी चाहिए।

आयु सीमा

इस प्रवेश परीक्षा में 17 वर्ष पूरा होनी चाहिए और अभ्यर्थी की उम्र 25 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

BHU B.Sc.  नर्सिंग / बी.फार्मा (A.I.) प्रवेश परीक्षा पैटर्न

अभ्यर्थियों के लिए यही सलाह रहेगी कि बेहतर तैयारी की रणनीति बनाये और परीक्षा में अच्छा स्कोर करने के लिए परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम को अच्छे से पढ़े। BHU B.Sc. नर्सिंग / बी.फार्मा (A.I.) प्रवेश परीक्षा के पैटर्न का उल्लेख नीचे किया गया है। जिसे अभ्यर्थी ध्यान से पढ़ लें।

  • परीक्षा ऑफलाइन (पेन और पेपर) आधारित होती है।
  • परीक्षा की समय अवधि 2 घंटे रखी गयी है।
  • परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्न यानी वैकल्पिक प्रश्न आएंगे, प्रत्येक प्रश्न के विकल्प प्रश्न के नीचे दिए रहेंगे जिसमें कि आपको सही विकल्प का चुनाव करना होगा।
  • इस परीक्षा ने माईनस मार्किंग नहीं होती है। इसमें अभ्यर्थी को प्रत्येक प्रश्न पर 1 नंबर दिया जाता है।
  • परीक्षा में कुल 100 प्रश्न होते हैं। और प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होता है।
  • सामान्य वर्ग के लिए कट ऑफ मार्क 50% और ओबीसी (नॉन-क्रीमी लेयर) / एससी / एसटी / पीसी के लिए कट ऑफ मार्क 40% होता है।
See also  BHU SET Syllabus, Exam Pattern, Admission Process Details

BHU के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय है जो वाराणसी के पवित्र शहर में स्थित है। विश्वविद्यालय में 3 संस्थान, 14 संकाय 140 विभाग, 4 अंतःविषय केंद्र, महिलाओं के लिए अलग महाविद्यालय भी है।

इसमें हर शाखाओं जैसे- सामाजिक विज्ञान, प्रौद्योगिकी, चिकित्सा, विज्ञान, ललित कला और प्रदर्शन कला के लिए पाठशाला का निर्माण किया गया है। इसमें उन्नत अध्ययन के 6 केंद्र, विशेष सहायता कार्यक्रम के तहत 10 विभाग और बड़ी संख्या में विशेष अनुसंधान केंद्र हैं। जिसमे सभी वर्ग के विद्यार्थी भाग लेकर अपनी पढ़ाई करते है।

Leave a Comment